Thursday, January 19, 2012

पापा की नज़र से .....पापा के बच्चे ....


"वर्षों बाद आज फिर एक शुभ समाचार मिला .
आज फिर मेरी बगिया में  एक सुंदर फूल खिला"
मेरे बेटे का बेटा यानि मेरे पोते का जन्म  हुआ है '
पहले एक पोती है(मौली )  और अब एक पोता....

ये फूल १४ जनवरी,२०१२ (मकर संक्राति ) को हमारी 
बगिया में खिला || ये अपनी खुशी... मैं अपने आभासी 
रिश्तों के साथ साझा करना चाह रहा था ,और कर 
रहा हूँ ....अपने बच्चों के प्रति .... अपनी निजि सोच
के साथ.... 
 मेरी...  डायरी का ...नीजि पन्ना ...
मेरी सोच,मेरे भाव,मेरा प्यार और 
हमारा आशीर्वाद !

समर्पित है ...मेरे बच्चों को..!!!

हर माँ-बाप की तरह हम भी इनकी 
आने वाली जिंदगी की खुशियों के 
लिए भगवान से दुआ करते हैं और 
आप सबसे भी इनके लिए आशीर्वाद 
मांगते हैं ....
धन्यवाद ! 

मेरी बड़ी बेटी : इसके पास मेरी एक नातिन ओर एक 
नाती है.
दीपा (दीपिका)


ये धीर है ,गंभीर है ,पर रहती अधीर है
ये आढ़ी-तिरछी नही ,इक सीधी लकीर है  
हर-एक के दुःख सुख में, शरीक होती है 
लगे चोट दिल को, तो अकेले में रोती है ||

मेरी छोटी बेटी : इसके पास मेरी दो नातिन है ..
सोनू (रूपिका)
ये अपने से दूर, भगाती है हर फड्‍डे 
हँसती है तो पड़ जाते हैं,गालों में गड्डे 
बहुत चंचल, शोख और बातों में मस्ती है 
बहुत जोर से, ठहाका लगा के हँसती है ||

मेरा बेटा : इसके पास मेरी एक 
पोती और अब एक पोता है ...

मणि (कर्ण)
ये शरारत और मस्ती से भरपूर है 
अपनी दोनो बहनो की ,आँखों का नूर है 
जब असर इसपे ,गुस्से का हो जाता है 
तब इसको कोई भी, नही सुहाता है ||

इन तीनो में भी, हो जाती तकरार है 
पर फिर भी ,आपस में बड़ा प्यार है 
कहते है मिल के, तीनों यही ज़ोर-शोर से 
ये ही दिए हमारे ,इन तीनो को संस्कार है||
एक बात में, तीनो बरकरार है 
सुख:दुःख में तीनो शुमार है 
आपस में मिलने,को रहते बेकरार हैं 
इक-दूजे की ,तकलीफों के पहरेदार हैं ||

कहानी हो अब, ये कैसे पूरी 
इक बात रह गयी,सुनानी जरूरी 
सभी मानते माँ-बाप का उपकार हैं 
देते मान ,और लुटाते हम पे प्यार हैं||

खुश हैं हम भी ले कर इनसे मीठा 
लौली-पोप और प्यार की गोली 
हँसते-गाते गले मिल के ,खेलो सब तुम
सदा प्यार की रंग-बिरंगी, यूँ ही होली ||
पापा



45 comments:

  1. अतिशय बधाईयाँ, सबके घर में फूल खिले हैं..

    ReplyDelete
  2. बड़ा प्यारा परिवार है भाई जी ....
    बधाई और सबको शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  3. बहुत बहुत बधाई बाबु जी

    ReplyDelete
  4. hahaha bahut pyara privaar hai....
    or chote chote pyare bacho ke baare me kab bta rhe ho ?

    ReplyDelete
  5. बहुत बहुत बधाई, सबको शुभकामनायें

    ReplyDelete
    Replies
    1. कुश्वंश जी, आप का इ-मेल का पता मालूम नहीं ...इस लिए मैं आप की दी हुई मुझे बधाई और बच्चों को आशीर्वाद का आप को अपना आभार यहाँ कर रहा हूँ |
      आप भी अपने परिवार सहित ...
      खुश और स्वस्थ रहें |

      Delete
  6. एक बात में, तीनो बरकरार है
    सुख:दुःख में तीनो शुमार है
    आपस में मिलने,को रहते बेकरार हैं
    इक-दूजे की ,तकलीफों के पहरेदार हैं ||...यही तो जीवन का संबल है ... सबसे मिलना , सबके बारे में आपसे जानना बहुत अच्छा लगा . नए मेहमान को मेरा ढेरों आशीष और बाकी जो पहले से हैं , उन्हें भी ढेरों आशीष ....

    ReplyDelete
  7. सादर सर जी
    बहुत अच्छा लगा परिवार का परिचय करा दिया और कविता भी।

    ReplyDelete
  8. आप पर और आपके परिवार पर ईश्वर कृपा सदा बनी रहे ....शुभ आशीष

    ReplyDelete
  9. लख-लख बधाइयां सर जी !My best Wishes !!

    ReplyDelete
  10. सुन्दर मनोहर प्यार से गुम्फित यह परिवार रहे आबाद हंसता खेलता गाता यही चाहत यही आशीर्वाद .
    मुबारक ,मुबारक ,मुबारक अशोक भाई

    ReplyDelete
  11. बहुत बहुत बधाई………आपकी बगिया ऐसे ही महकती रहे।

    ReplyDelete
  12. शुभकामनाएँ!
    --
    घूम-घूमकर देखिए, अपना चर्चा मंच
    लिंक आपका है यहाँ, कोई नहीं प्रपंच।।
    --
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शुक्रवार (Friday) के चर्चा मंच पर भी होगी!
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  13. वाह बहुत ही सुंदर ढंग से दिया पाने अपने परिवार का परिचय फिर एक बार दादाजी बनाने की खुशी में बहुत-बहुत बधाई आपको....

    ReplyDelete
  14. बहुत बहुत मुबारक हो अशोक जी . फिर से दादा बन गए .

    परिवार में यूँ ही प्यार बना रहे .

    ReplyDelete
  15. बेटे में आपकी युवावस्था का पल्लवन और छोटी बिटिया में आपका अक्श साफ नजर आता है बड़ी बिटिया में आपका गाम्भीर्य है .अच्छा लगा अन्तरंग झांकी देख के .शुक्रिया निजिक पलों को सांझा करने के लिए इन्हीं अर्थों में ब्लॉग जगत बाकी संचार माध्यमों से फर्क है यहाँ अपनापा है .शेयरिंग है .

    ReplyDelete
    Replies
    1. वीरू भाई राम-राम !
      भाई क्या !!! बात है ....? क्या अन्तरंग पोस्ट-मार्टम किया है :-)))))
      खुश और स्वस्थ रहें !
      आभार !

      Delete
  16. बहुत बहुत बधाई !!

    ReplyDelete
  17. http://bulletinofblog.blogspot.com/2012/01/blog-post_20.html

    ReplyDelete
  18. मन के भावों को सुंदर शब्द दिए आपने ..... हार्दिक बधाई

    ReplyDelete
  19. भावनाओं को व्‍यक्‍त करने का माध्‍यम नया मेहमान बना ... उसके आने की आप सभी को बहुत-बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
    Replies
    1. आप की बधाई और शुभकामनाओं के लिए ...
      आभार !(आप का इ-मेल नही है ....

      Delete
  20. वाह! यार चाचू.
    परिवार का कवितामय परिचय करवाने के लिए आपका
    बहुत बहुत धन्यवाद.
    हमारी चाची और बहु का न फोटो है न उनपर कविता.
    यह क्या बात है.
    पोती होने की बहुत बहुत बधाई.
    सभी को बहुत बहुत शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
    Replies
    1. दोस्त भतीजे ,
      आप की चाची और बहु तो अभी चने के झाड पर हैं ..:-))))
      आभार!

      Delete
  21. पोती की जगह पोता पढ़े जी.
    पोती की बधाई तो पहले की हैं.
    अब पोते की बधाई स्वीकार कीजियेगा.

    ReplyDelete
  22. हनुमान जी के चेले से ऐसी गलती ...:-)))))))
    फिर भी ....
    आभार !
    खुश और स्वस्थ रहो !

    ReplyDelete
  23. achchhi guft -gu naunk jhonk ,thnxs for the link but it could not be installed.

    ReplyDelete
  24. बधाई बधाई बधाई ... आपके परिवार से मिलना बहुत ही अच्छा लगा ... इश्वर से प्रार्थना है की प्रेम स्नेह बनाये रखे ..

    ReplyDelete
  25. बहुत सार्थक अभिव्यक्ति,
    आपके पूरा परिवार इसी तरह सुखमय रहे,मेरी बहुत२ बधाई शुभकामनाए
    new post...वाह रे मंहगाई...

    ReplyDelete
  26. आपका भरापूरा परिवार सदा खुश रहे.नये सदस्य की प्राप्ति पर आपको बधाइयाँ...

    ReplyDelete
  27. बहुत बहुत बधाई.भावनाओं को शब्द मिल गए हैं

    ReplyDelete
  28. bahut badiya jee,pad ker bahut acha laga, god bless you all

    ReplyDelete
    Replies
    1. बच्चों को आप का आशीर्वाद मिला इसके लिए आप का बहुत-बहुत..
      आभार !(आप का इ-मेल नही है )
      खुश रहें!

      Delete
  29. दादा कहतें हैं ऐसा काम करेगा ,पोता हमारा बड़ा नाम करेगा ...बधाई पुनश्चय ..शुक्रिया आपका प्रोत्साहन के लिए .

    ReplyDelete
  30. मिठाई खाने को आ धमकुंगी किसी दिन. बहु को बधाई और प्यार. परिवार के तीनों सदस्यों से मिलकर अच्छा लगा.जी गालों मे डिम्पल तो मेरे भी पड़ते हैं यानि .............कुम्भ के मेले मे बिछुडे जरूर हैं हम.....पर पहचान लेंगे मुझे हा हा हा
    भाभी और बच्चों के फोटोज भी लगाइए न. सबको आशीर्वाद.भाभी को बधाई और...मुझे भी वो 'दादी' बनी है मैं तो 'बुआ दादी' देख लो रिश्ता बड़ा किसका हुआ ? हा हा हा

    ReplyDelete
    Replies
    1. बधाई! आप को भी ....
      आप ने जो कहा ! शत प्रतिशत सही कहा ....
      आभार!

      Delete
  31. http://bulletinofblog.blogspot.com/2012/01/blog-post_23.html#comments

    ReplyDelete
  32. Salooja ji pariwar me Pota aane pr apko hardil badhai .......14 january ka janm numbrology se yah bachha agechalkar budh se sambandhit chheton me jayega yani....khatiprapt lekhak ....lekhakar...Math teacher ....adi adi ....mai uske mangal bhavishy aur deergh aayu ke liye prbhu se dua mangata hoon.

    pariwar ke abhi kuchh sadasy baki rah gaye asha karata hoon agali post me unse bhi parichay ho jayega....es sundar pravishti ke liye apko hardik badhai.

    ReplyDelete
    Replies
    1. त्रिपाठी जी. आप की दुआओं और आशीर्वाद के लिए बहुत-बहुत आभार !बच्चों पर अपना स्नेह और आशीर्वाद बनाये रखें ....
      स्वस्थ रहें!

      Delete
  33. pehle to parivaar ke sabhi sadasyon ko bahut bahut badhaai."MAULI" ko dekh chuki hun ab nanhe samrat-"MAULIK"ko bhi dekhna chahungi yun hi aisi hi kisi sunder si post ka intezaar rahega jisme "maulik"bhi nazar aa jaye.....
    prastuti bahut hi sunder thi!!!

    ReplyDelete
    Replies
    1. बधाई के लिए बहुत-बहुत शुक्रिया ! आगे जब भी इस सन्दर्भ में पोस्ट डालूँगा आप की स्नेह भरी चाहत का ख्याल रहेगा ....आप की दिया नाम बहुत पसंद आया ,,,पर यहाँ पंडित जी के निकले अक्षर की चलती है :-)))))
      क्षमा !
      खुश रहें !
      आभार !

      Delete
  34. अपनी छोटी बेटी सोनू की नज़र में पापा :. टिप्पणी इ-मेल द्वारा टोरंटो से !
    roopika kukreja
    4:46 AM (12 hours ago)

    to me
    Hello papa jee,
    Haal chaal umeed kerti hu ki tik tak hogye,
    Baki Deepa ne aapki post ke baare mai bataya , maine ja ker poori pad bhi le aur dekh bhi lee, bahut acha likha hai aapne, apne baccho ke prati aap ka perspective , Good hai
    individual description ki tuk bandhi bahut baiya hai aur saath mai aap ka drishticone bhi
    Maine sub key comments bhi pade acha laga ki sub ko pasand aaya aur sub parivaar ko blessings bhi milli.
    Baki aap ko double credit jata hai, pahla acha likne ka doosra hum ko vo sansakar dene ka

    Baki pher
    Sonu

    ReplyDelete
  35. आज आपकी नज़र से आपके परिवार को करीब से देखा ,बहुत सुन्दर परिवार है ,मालिक बुरी नज़र से बचाए.


    मोहब्बत नामा
    मास्टर्स टेक टिप्स
    इंडियन ब्लोगर्स वर्ल्ड

    ReplyDelete
  36. बहुत बहुत बधाईयां........सभी सुखी रहें, खुशहाल रहें एवं स्वस्थ रहें और आप इन सब की खुशियों में निरंतर शरीक रहें। आमीन..........

    ReplyDelete

मैं आपके दिए स्नेह का शुक्रगुज़ार हूँ !
आप सब खुश और स्वस्थ रहें ........

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...